No icon

lupin medicine

लुपिन ने भारत में कोरोना वायरस की दवा कोविहाल्ट को बाजार में उतारी, एक गोली की कीमत 49 रुपए

दवा क्षेत्र की प्रमुख कंपनी लुपिन ने बुधवार को कोविड-19 के हल्के और कम गंभीर रोगियों के इलाज के लिए दवा फेविपिराविर को कोविहाल्ट ब्रांड नाम के साथ बाजार में उतारी है। इसकी एक गोली का मूल्य 49 रुपये रखा गया है। लुपिन ने शेयर बाजारों को भेजी नियामकीय जानकारी में कहा कि फेविपिराविर को आपात स्थिति में इस्तेमाल के लिए भारत के औषधि महानियंत्रक से अनुमति मिल गई है।

कंपनी का कहना है कि कोविहाल्ट में दवा की मात्रा को प्रशासन की सुविधा को ध्यान में रखते हुए विकसित किया गया है। यह दवा 200 मिलीग्राम की गोली के रूप में 10 गोलियों की स्ट्रिप के रूप में उपलब्ध होगी। प्रत्येक गोली का दाम 49 रुपये रखा गया है। इससे पहले सन फामास्युटिकल इंडस्ट्रीज ने भी फेविपिराविर को फ्ल्यूगार्ड ब्रांड नाम के तहत बाजार में उतारा है। उसने अपनी एक गोली की कीमत 35 रुपये रखी है।

बीडीआर फार्मा ने भी गोली बाजार में उतारी
दवा कंपनी बीडीआर फार्मास्युटिकल्स ने भारतीय बाजार में फेविपिराविर की गोली 63 रुपये की दर से पेश की है। कंपनी ने इसे बीडीफैवि ब्रांड नाम से भारतीय बाजार में उतारा है। कंपनी के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक धर्मेश शाह ने इसकी जानकारी दी। कंपनी को इस दवा के विनिर्माण के लिए भारतीय दवा महानियंत्रक (डीसीजीआई) से मंजूरी मिल चुकी है। कंपनी की यह दवा 10 गोलियों के पत्ते में उपलब्ध होगी।

जेनारा फार्मा को फेविपिराविर के विनिर्माण, बिक्री की अनुमति
जेनारा फार्मा को भारतीय दवा महानियंत्रक (डीसीजीआई) से फेविपिराविर के विनिर्माण और बिक्री की अनुमति मिल गई है। बायोफोर इंडिया फार्मास्युटिकल्स के पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी जेनारा फार्मा इसे फेविजेन ब्रोड नाम से उतारेगी। कंपनी के सह-संस्थापक और प्रबंध निदेशक जगदीश बाबू रांगिशेट्टी ने कहा कि मौजूदा महामारी के बीच दवा कंपनियों के लिए कोविड-19 के इलाज में सक्षम सुरक्षित दवा को तेजी से उपलब्ध कराना अनिवार्य हो गया है।

Comment As:

Comment (0)